कोविड-19  ने न केवल भारत बल्कि पूरे विश्व पर कहर बरपाया है।  इस संक्रमण के बचाव औरइसे रोकने के लिए सरकार के जारी की गई कोविड-19  गाइडलाइन और वैक्सीनेशन ही कारगर उपायसाबित हुआ है। इसी आधार पर ही भारत में कोविड के संक्रमण पर नियंत्रण किया जा सका है।
18 वर्ष से अधिक आयु के लोगो को वैक्सिंन लगाए जाने में एक रिकॉर्ड भारत ने बनाया है, लेकिन अब भी 15 वर्ष से 18 वर्ष की आयु के युवा वैक्सीनेशन से बचे हुए थे । सरकार के द्वारा इसी ओर कदम बढ़ाते हुए 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के युवाओं को वैक्सीन और पूर्व में लगाई गई दोनों डोज के बाद प्रिकॉशन डोज लगाये जाने के लिए 28 दिसंबर 2021 को दिशा निर्देश जारी किए थे ।

3 जनवरी 2022 से लगेगी किशोरों को वैक्सीन 

सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों के आधार पर 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के समस्त बच्चों को /किशोरों जिनकी आयु 2007 या उससे पूर्व हुई हो उनको कोविड-19 का टीकाकरण 3 जनवरी 2022 से शुरू होगा  । 

  • ऑनलाइन और ऑफलाइन किया जा सकता है पंजीकरण

15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के किशोरों को वैक्सीन के लिए कोविन के माध्यम से पंजीकरण तथा अपॉइंटमेंट लिया जा सकता है । यह आप स्वयं पंजीकरण द्वारा भी किया जा सकता है। वैक्सीनेटर  या वेरीफायर के द्वारा ऑनसाइट पंजीकरण या ऑफलाइन या ऑनसाइट अपॉइंटमेंट बुक भी कर सकते हैं  । यह सुविधा ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों तरीके से उपलब्ध रहेगी।  

  • 4 सप्ताह के बाद लगेगी इनको दूसरी डोज

जिन किशोरों को भी पहली डोज लगेगी उसके 4 सप्ताह के अंतराल पर दूसरी डोज लगवानी होगी, 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के किशोरों को-वैक्सीन और कोविशिल्ड की डोज उपलब्ध रहेगी । 

  • हेल्थ केयर वर्कर/ फ्रंट वर्कर लगेगी प्रिकॉशन डोज 

15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के किशोरों को वैक्सिंग लगाए जाने के अतिरिक्त हेल्थ केयर वर्कर और फ्रंटल वर्कर को भी 10 जनवरी 2022 से प्रिकॉशन डोज लगाई जाएगी। इनके लिए को- वैक्सीन और कोविशिल्ड दोनों वैक्सीन उपलब्ध रहेगी । कोविन में दर्ज दूसरी खुराक की तिथि से 39 सप्ताह पूर्ण होने पर प्रिकॉशन डोज जो कि पूर्व में वैक्सीन दी गई थी के बाद लगाई जा सकेगी।

  • सीनियर सिटीजन को भी लगेगा प्रिकॉशन डोज

60 वर्ष से अधिक आयु के साथ  ही सहरुग्णता वाले व्यक्ति को भी 10 जनवरी 2022 से प्रीकॉशंसन डोज  लगाई जाएगी । इनके लिए भी को- विन और कोविशिल्ड दोनों वैक्सीन उपलब्ध रहेगी । चिकित्सक की सलाह पर इनको भी कोविन में दर्ज दूसरी खुराक की तिथि से 39 सप्ताह पूर्ण होने पर प्रिकॉशन डोज लगाई जा सकेगी।

सरकार की सक्रियता और जनहित में यह उम्मीद की जाए रही है कि हेल्थ केयर वर्कर/ फ्रंट वर्कर लगेगी प्रिकॉशन डोज के बाद चरणबद्ध तरीके से उन सभी व्यक्तियों जिनको कोविड-19 के दोनों डोज लग चुकी है उसके एक निश्चित अवधि के बाद प्रिकॉशन डोज लगाई जाएगी।

लाभार्थियों को प्रिकॉशन डोज सरकारी वैक्सीनेशन सेंटर पर निशुल्क उपलब्ध रहेगी साथ ही जो लोग वैक्सीन का भुगतान करने में सक्षम है वह अगर चाहे तो निजी क्षेत्र के कोविड-19 वैक्सीनेशन सेंटर पर पूर्व में अनुमोदित दरों पर लगवाई जा सकती हैं। 

राजस्थान सरकार ने भी 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के किशोरों और 60 बार वरिष्ठ नागरिकों तथा फ्रंटलाइन वर्कर्स को डोज लगाने के लिए कमर कस ली है पूरी तैयारियां जोर-शोर पर चल रही है । 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के प्रत्येक किशोर से यह उम्मीद की जा सकती है कि वह इस महा अभियान में अपनी भागीदारी जरूर निभाए ।साथ ही अपने स्वयं और अपने परिवार को, अपने समाज को ,अपने देश को इस महामारी से लड़ने में अपना योगदान दें।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page