किसानों के हित में यह योजना होगी कारगर साबित ऐसी उम्मीद की जाती है

राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने किसानों के हित में महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए ‘मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना’ के अंतर्गत हाल ही में 120 एफपीओ के सुदृढ़ीकरण के लिए 137 करोड़ 75 लाख रूपए की तीन वर्षीय कार्ययोजना को मंजूरी दी है। इस मंजूरी से प्रदेश के किसानों को फायदा मिलेगा उन्हें संकट के समय राहत मिलेगी और उनकी फसल काफी उचित प्रतिफल प्राप्त होगा।

  • मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना” क्या है

बजट 2021-22 की घोषणा के तहत किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना की शुरुआत की है। इस योजना के तहत यदि किसानों के साथ कोई दुर्घटना हो जाती है, तो उन्हें राज्य सरकार की ओर से 5 हजार से लेकर 2 लाख रुपये तक की आर्थिक सहायता सरकार द्व्रारा प्रदान की कराई जाती है।

  • एफपीओ का होगा सुदृढ़ीकरण

इस मंजूरी से एफपीओ का सुदृढ़ीकरण होगा और इससे करीब 96 हजार प्रगतिशील कृषक लाभान्वित होंगा ज्ञात हो कि बजट 2021-22 में मुख्यमंत्री ने कृषकों एवं पशुपालकों की आय में वृद्धि तथा समग्र विकास सुनिश्चित करने की दृष्टि से मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना के माध्यम से 120 एफपीओ के सुदृढ़ीकरण की घोषणा की थी। इस योजना के तहत कृषि उत्पादों की क्लीनिंग, ग्राइंडिंग और प्रोसेसिंग इकाइयां स्थापित की जाएंगी, ताकि किसानों को उनकी उपज का उचित मूल्य मिले।

  • ग्राम सेवा सहकारी समिति को मिलेगी प्राथमिकता

एफपीओ के गठन एवं सुदृढ़ीकरण में ग्राम सेवा सहकारी समितियों को प्राथमिकता प्रदान की जाएगी। कार्ययोजना में न्यूनतम 70 प्रतिशत ग्राम सेवा सहकारी समितियों को एफपीओ के रूप में शामिल किया जाना प्रस्तावित है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page