बैंको का बैंक यानी RBI इसकी स्थापना को लेकर अक्सर कन्फ्यूजन रहता है RBI की स्थापना 1935  में हुई या 19737 में । इस कन्फ्यूजन का समाधान की   रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की स्थापना कब हुई  पुस्तकों में  रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की स्थापना  1 अप्रैल 1935 लिखी हुई है  तथा रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की स्थापना  का प्रावधान 1935 के अधिनियम में किया हुआ है लेकिन 1935 का अधिनियम  1 अप्रैल 1937 को यथावत रुप से लागू हुआ था ।

अब यह कंफ्यूजन पैदा हो जाता है कि जब भारत शासन अधिनियम 1935 जिसमें रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की स्थापना का प्रावधान है वह लागू ही 1 अप्रैल 1937 को हुआ था तो फिर  रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की स्थापना (इस अधिनियम के लागू होने से) पहले ही 1 अप्रैल 1935 को कैसे हो गई  ।

  • आरबीआई एक्ट 1934 के तहत हुई थी स्थापना


यहाँ स्पष्ट कर देना चाहूंगा कि  मित्रों इसकी स्थापना 1 अप्रैल सन 1935 को रिजर्व बैंक ऑफ इण्डिया ऐक्ट 1934 के तहत हुई।  1935 के अधिनियम के तहत जिसमे  रिजर्व बैंक का प्रावधान था इसे ही  नया रूप देकर पुनः बम्बई में मुख्यालय बनाने के साथ 1937 में हुई  ।

  • अम्बेडकर  की भूमिका

  डॉ. बी. आर. अम्बेडकर ने भारतीय रिजर्व बैंक की स्थापना में अहम भूमिका निभाई हैं, उनके द्वारा प्रदान किये गए दिशा-निर्देशों या निर्देशक सिद्धांत के आधार पर भारतीय रिजर्व बैंक बनाई गई थी। बैंक कि कार्यपद्धती या काम करने शैली और उसका दृष्टिकोण बाबासाहेब ने हिल्टन यंग कमीशनके सामने रखा था, जब 1926 में ये कमीशन भारत में रॉयल कमीशन ऑन इंडियन करेंसी एंड फिनांस के नाम से आया था तब इसके सभी सदस्यों ने बाबासाहेब ने लिखे हुए ग्रंथ “दी प्राब्लम ऑफ दी रुपी – इट्स ओरीजन एंड इट्स सोल्यूशन (रुपया की समस्या – इसके मूल और इसके समाधान) की जोरदार वकालात की, उसकी पृष्टि की। 

ब्रिटिशों की वैधानिक सभा (लेसिजलेटिव असेम्बली) ने इसे कानून का स्वरूप देते हुए भारतीय रिजर्व बैंक अधिनियम 1934 का नाम दिया गया।[5][6][7] प्रारम्भ में इसका केन्द्रीय कार्यालय कोलकाता में था जो सन 1937  में मुम्बई आ गया। पहले यह एक निजी बैंक था किन्तु सन 1949 से यह भारत सरकार का उपक्रम बन गया है। 

  • आरबीआई के पहले गवर्नर और उप गवर्नर कौन थे ?

भारतीय रिजर्व बैंक इंडिया एक्ट 1934 के तहत 1 अप्रैल 1935 को स्थापित आरबीआई के पहले  गवर्नर सर असबर्न ए स्मित. थे  ।जिनका कार्यकाल 1 अप्रैल 1935 से 30 जून 1937 तक रहा इसी दौरान दो उप गवर्नर भी रहे जिनमें सर जेम्स टेलर जिनका कार्यकाल 1 अप्रैल 1935 से 30 जून 1937 तक रहा तथा दूसरे उप गवर्नर कैप्टन सर सिकंदर हयात खान इनका कार्यकाल 1 अप्रैल 1935 से 20 अक्टूबर 1935 तक रहा। वर्तमान में 25 वे क्रम के गवर्नर शशिकांत दास है जिनका कार्यकाल 12 दिसंबर 2018  से शुरू हुआ ।

  • कब हुआ आर बी आई का राष्ट्रीयकरण

सन, 1948 में रिज़र्व बैंक एक्ट के संशोधन से जुड़ा एक बिल तत्कालीन वित्त मंत्री केसी नियोगी ने संसद में पेश कियापेश किया । यह बिल(विधेयक) अगले दिन ध्वनिमत से पारित हो गया और फिर 1 जनवरी, 1949 को रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया (टांसफर टू पब्लिक ओनरशिप) एक्ट के तहत एक सरकारी संस्था के रूप में परिवर्तित हो गया.।इस प्रकार 1 जनवरी 1949 को बैंकों के बैंक रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया का राष्ट्रीयकरण हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page